ज़िंदगी की है सूरत

Zindagi Ki Shayari

मुझे ख़बर नहीं ग़म क्या है और ख़ुशी क्या है
ये ज़िंदगी की है सूरत तो ज़िंदगी क्या है

Mujhe khabar nahin gam kya hai aur khushi kya hai
Ye zindagi ki hai soorat to zindagi kya hai