ज़िंदगी छोड़ दे पीछा मिरा

Life Shayari in Hindi

अब भी इक उम्र पे जीने का न अंदाज़ आया
ज़िंदगी छोड़ दे पीछा मिरा मैं बाज़ आया

Ab bhi ik umr pe jine ka n andaaz aaya
Zindagi chhod de pichha mera main baaz aaya