तुझ से बिछड़ूँ

Love Hindi Shayari

तुझ से बिछड़ूँ तो तिरी ज़ात का हिस्सा हो जाऊँ
जिस से मरता हूँ उसी ज़हर से अच्छा हो जाऊँ

Tujh se bichhadun to tiri zaat ka hissa ho jaun
Jis se marata hoon usi zahar se acha ho jaun