शक्ल भी मुश्किल से याद

Yaad Shayari Hindi

अब उस की शक्ल भी मुश्किल से याद आती है
वो जिस के नाम से होते न थे जुदा मिरे लब

Ab us ki shakl bhi mushkil se yaad aati hai,
Wo jis ke naam se hote na the juda mere lab.