Mohabbat Shayari

Mohabbat Shayari Hindi Mein – यहाँ देखें सबसे बड़ा संग्रह Mohabbat Shayari in Hindi with Images। हिंदी के सबसे बड़े शायरी संग्रहों की वेबसाइट shayariinhindi.net पर मोहब्बत शायरी के साथ अपनी भावना व्यक्त करें। फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पर अपने पसंदीदा हिंदी मोहब्बत शायरी को दोस्तों के साथ पढ़ें और साझा करें।

प्रेम छंदों का यह वर्गीकरण आपके लिए एक जीवन-उपहार होगा। यह न केवल आपको प्यार के तरीकों से अवगत कराएगा, बल्कि यह आपको जुदाई के दर्द को भी दूर करने में मदद करेगा। यह अपनी तरह का पहला संग्रह है जहाँ आपको रोमांस के सभी शेड्स मिलेंगे। पढ़ें, आनंद लें और साझा करें।

Mohabbat Shayari in Hindi

Latest Collection of Mohabbat Shayri in Hindi। हमारे मोहब्बत शायरी संग्रह के द्वारा, आप किसी को भी प्रभावित कर सकते हैं।

Mohabbat Ki Shayari, Mohabbat Wali Shayari। यहां आपको कुछ 2 Line Mohabbat Shayari Images हिंदी में और Bepanah Mohabbat Shayari for girlfriend (प्रेमिका के लिए बेपनाह मोहब्बत शायरी) हिंदी में मिलेंगी।

Hindi Shayari Mohabbat

शाम ढले ये सोच के बैठे हम अपनी तस्वीर के पास
सारी ग़ज़लें बैठी होंगी अपने अपने मीर के पास

Shaam dhale ye soch ke baithe ham apani tasveer ke paas
Saari gazalen baithi hongi apane apane meer ke paas

Mohabbat Shayari Hindi

मोहब्बत में ये क्या मक़ाम आ रहे हैं
कि मंज़िल पे हैं और चले जा रहे हैं

Mohabbat mein ye kya maqaam aa rahe hain
Ki manzil pe hain aur chale ja rahe hain

Mohabbat Shayri Hindi

मेरी इक छोटी सी कोशिश तुझ को पाने के लिए
बन गई है मसअला सारे ज़माने के लिए

Meri ik chhoti si koshish tujh ko paane ke lie
Ban gai hai masala saare zamaane ke lie

Hindi Shayari Mohabbat

कभी यूँ भी आ मिरी आँख में कि मिरी नज़र को ख़बर न हो
मुझे एक रात नवाज़ दे मगर इस के बाद सहर न हो

Kabhi yoon bhi aa miri aankh mein ki miri nazar ko khabar na ho
Mujhe ek raat navaaz de magar is ke baad sahar na ho

Mohabbat Shayari in Hindi

तुम से मिलती-जुलती मैं आवाज़ कहाँ से लाऊँगा
ताज-महल बन जाए अगर मुम्ताज़ कहाँ से लाऊँगा

Tum se milati-julati main aawaz kahan se launga
Taj-mahal ban jaye agar mumtaaz kahan se launga

Shayari Mohabbat Hindi

न जाने कौन सी मंज़िल पे आ पहुँचा है प्यार अपना
न हम को ए’तिबार अपना न उन को ए’तिबार अपना

Na jaane kaun si manzil pe aa pahuncha hai pyaar apna
Na ham ko etibaar apna na un ko etibaar apna

Mohabbat Shayari Hindi

बारहा उन से न मिलने की क़सम खाता हूँ मैं
और फिर ये बात क़स्दन भूल भी जाता हूँ मैं

Baaraha un se na milane ki qasam khaata hoon main
Aur phir ye baat qasdan bhool bhi jaata hoon main

Hindi Mohabbat Shayari

जब उन्हें देखो प्यार आता है
और बे-इख़्तियार आता है

Jab unhen dekho pyaar aata hai
Aur be-ikhtiyaar aata hai

Mohabbat Shayari Hindi

हम बहुत दूर निकल आए हैं चलते चलते
अब ठहर जाएँ कहीं शाम के ढलते ढलते

Ham bahut door nikal aaye hain chalate chalate
Ab thahar jayen kaheen shaam ke dhalate dhalate

Mohabbat Shayari in Hindi

ये मोहब्बत भी एक नेकी है
इस को दरिया में डाल आते हैं

Ye mohabbat bhi ek neki hai
Is ko dariya mein daal aate hain