ज़िंदगी पर भी कोई ज़ोर नहीं

Zindagi Shayari

ज़िंदगी पर भी कोई ज़ोर नहीं
दिल ने हर चीज़ पराई दी है

Zindagi par bhi koi zor nahin
Dil ne har cheez parai di hai