हज़ार दर्द समेटे हुए हूँ

Dard Shayari in Hindi that make you Cry

हज़ार दर्द समेटे हुए हूँ इक दिल में
बिखर गई जो मिरी दास्ताँ तो क्या होगा

Hazaar dard samete huye hun ik dil mein
Bikhar gai jo miri daastaan to kya hoga