गुज़ारिश है

Dosti Sad Shayari

दोस्तो तुम से गुज़ारिश है यहाँ मत आओ
इस बड़े शहर में तन्हाई भी मर जाती है

Dosto tum se guzaarish hai yahaan mat aao
Is bade shahar mein tanhai bhi mar jaati hai