दोस्ती के साथ

दोस्ती शायरी

बरताव इस तरह का रहे हर किसी के साथ
ख़ुद को लिए दिए भी रहो दोस्ती के साथ

Barataav is tarah ka rahe har kisi ke saath
Khud ko lie diye bhi raho dosti ke saath