दर्द का कारवाँ

Dard Shayari Hindi Mein

शाम ढलते ही दिल के आँगन से
दर्द का कारवाँ गुज़रता है

Shaam dhalate hi dil ke aangan se
Dard ka kaaravaan guzarata hai