Chand Shayari

Chaand Shayari in Hindi

चाँद उर्दू और हिंदी कविता का एक रूपक है। इसे एक क्लिच और एक ताजा प्रतीक के रूप में माना गया है। जबकि यह अपने शांत प्रकाश को फैलाता है, यह अप्राप्य रहता है। इसे कई संदर्भों में इस्तेमाल किया गया है लेकिन विशेष रूप से Romantic और अध्यात्मवादी संदर्भों में। यहाँ कुछ चाँद शायरी हैं। इन्हें पढ़ें और आनंद लें।

यहां आप Chand Par Shayari का सबसे अच्छा संग्रह प्राप्त कर सकते हैं, आप इसे अपने हिंदी व्हाट्सएप स्टेटस के रूप में उपयोग कर सकते हैं या अपने फेसबुक दोस्तों को यह Chand Shayari in Hindi भेज सकते हैं। चाँद पर यह हिंदी शेर आपकी भावनाओं को व्यक्त करने में बेस्ट हैं।

चाँद पर शायरी | Chand Shayari

हर प्रेमी अपने प्रेमी के चेहरे में चंद्रमा देखता है, लेकिन चाँद में तो दाग दिख जाता है, लेकिन वह बेदाग दिखता है। तो दोस्तों, आज यहाँ पर, केवल और केवल चाँद की बात होगी, चाँद शायरी से संबंधित होगी। चाहे वह कवि हो या शायर , हर कलम चाँद से जुड़ी हुई है।

Chand Shayari in Hindi

चाँद सूरज की तरह तुम भी हो क़ुदरत का खेल
जैसे हो वैसे रहो बनना बिगड़ना छोड़ो

Chaand suraj ki tarah tum bhi ho qudarat ka khel
Jaise ho vaise raho banna bigadana chhodo

चाँद पर शायरी | Chand Shayari

वो चाँद है तो अक्स भी पानी में आएगा
किरदार ख़ुद उभर के कहानी में आएगा

Vo chaand hai to aks bhi paani mein aayega
Kiradaar khud ubhar ke kahaani mein aayega

Chand Par Shayari

देखा नहीं वो चाँद सा चेहरा कई दिन से
तारीक नज़र आती है दुनिया कई दिन से

Dekha nahin vo chaand sa chehara kai din se
Taarik nazar aati hai duniya kai din se

Chand Shayari

तुम आ गए हो तो कुछ चाँदनी सी बातें हों
ज़मीं पे चाँद कहाँ रोज़ रोज़ उतरता है

Tum aa gaye ho to kuchh chaandani si baaten hon
Zamin pe chaand kahaan roz roz utarata hai

Chand Par Shayari

चाँद में कैसे नज़र आए तिरी सूरत मुझे
आँधियों से आसमाँ का रंग मैला हो गया

Chaand mein kaise nazar aaye teri surat mujhe
Aandhiyon se aasamaan ka rang maila ho gaya

Chaand Shayari in Hindi

हसीन यादों के चाँद को अलविदा’अ कह कर
मैं अपने घर के अँधेरे कमरों में लौट आया

Hasin yaadon ke chaand ko alavida kah kar
Main apne ghar ke andhere kamaron mein laut aaya

चाँद पर शायरी | Chand Shayari

बच्चों के छोटे हाथों को चाँद सितारे छूने दो
चार किताबें पढ़ कर ये भी हम जैसे हो जाएँगे

Bachchon ke chhote haathon ko chaand sitaare chhune do
Chaar kitaaben padh kar ye bhi ham jaise ho jayenge

Chand Shayari in Hindi

जब अधूरे चाँद की परछाईं पानी पर पड़ी
रौशनी इक ना-मुकम्मल सी कहानी पर पड़ी

Jab adhure chaand ki parachhain paani par padi
Raushani ik na-mukammal si kahaani par padi

Chand Par Shayari

देवता मेरे आँगन में उतरेंगे कब ज़िंदगी भर यही सोचता रह गया
मेरे बच्चों ने तो चाँद को छू लिया और मैं चाँद को पूजता रह गया

Devta mere angan mein utrenge kab zindagi bhar yahi sochata rah gya
Mere bachon ne to chand ko chhu liya aur main chand ko pujata rah gya

Chand Shayari

वो रातें चाँद के साथ गईं वो बातें चाँद के साथ गईं
अब सुख के सपने क्या देखें जब दुख का सूरज सर पर हो

Vo raaten chaand ke saath gain vo baaten chaand ke saath gain
Ab sukh ke sapane kya dekhen jab dukh ka suraj sar par ho